Hindi Mic

Breaking News in Hindi, हिन्दी माईक हिन्दी में खबरें

यूपी से निकला ”बाबा का बुलडोजर” अब बिहार सरकार के प्रदेश में भी बुलडोजर की हुई एंट्री

1 min read
नीतीश कुमार

नीतीश कुमार

भागलपुर: आजकल सोशल मीडिया पर एक नया नाम ट्रेंड कर रहा है। जब से यूपी में योगी आदित्यनाथ की जीत हुई तब से कोई उन्हें बुलडोजर बाबा कहा रहा है तो कोई बाबा का बुलडोजर। अब बिहार सरकार ने भी बुलडोजर दौड़ाने का फैसला लिया है। दरअसल, 1 अप्रैल से बिहार में बुलडोजर अब बुलडोजर दौड़ते दिखाई देंगे। इसके लिए सरकार की ओर से 10 – 10 लाख रुपये बिहार के सभी जिलों को देने का फैसला लिया गया है।

बता दे कि, भूमि सुधार मंत्री राम सूरत कुमार ने बिहार विधानसभा में कहा है कि सरकार जल्द ही गैर मजरुआ, खासमहल, कैसरे हिन्द और सरकारी विभागों के जमीनों को अतिक्रमण से मुक्त कर देगी।

उन्होंने आगे बताया कि ईटीएस के जरिये जमीन की मापी और डीएसीएलआर को जमीन विवाद के निपटारे का अधिकार देने संबंधी उपलब्धि भी गिनाई। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ कार्यवाही एवम कोर्ट मे ढंग से पक्ष नही रखने पर भी कठोर कार्यवाही की बात कही। मंत्री राम सूरत ने कहा कि राज्य सरकार जमीन को कब्जे से हटाने के लिए बुलडोजर का इस्तेमाल करेगी। यह अभियान एक अप्रैल से शुरू होगा।

अपने विभागीय बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए मंत्री ने आगे कहा कि सरकार ने भूमि विवादों को प्राथमिकता से निपटाया है। सेवाएं आनलाइन की जा रही हैं। यह अच्छे परिणाम दे रहा है। उन्होंने आगे बताया कि सरकार ने प्रत्येक जिले को बुलडोजर के जरिए सरकारी जमीन को कब्जे में लेने के लिए 10-10 लाख रुपये दिए हैं। परिषद ने विभाग के बजट को ध्वनिमत से पारित कर दिया। बजट 1332 करोड़ रुपये से अधिक का है।

नीतीश के मंत्री ने आगे कहा कि अतिक्रमण को लेकर विभाग सक्रियता से काम कर रहा है। वहीं भागलपुर से जदयू विधायक ने भी अपने क्षेत्र के अतिक्रमण की समस्या को सदन में रखा।

Leave a Reply