Hindi Mic

Breaking News in Hindi, हिन्दी माईक हिन्दी में खबरें

आजम खान की रिहाई पर अखिलेश यादव का ट्वीट, लिखा – ‘झूठ के लम्हे होते हैं, सदियां नहीं’

1 min read

लखनऊ: सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान 27 महीने बाद जेल से रिहा हो चुके हैं। बता दें कि वे सीतापुर जेल में बंद थे जहां उनके दोनों बेटे उन्हें लेने पहुंचे थे। जिस वक्त आजम खान जेल में बंद थे उस वक्त प्रसपा नेता शिवपाल यादव ने भी सीतापुर जेल में आजम खान से मुलाकात की थी। वहीं, आजम खान की रिहाई के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर उनका स्वागत किया है।

झूठ के लम्हे होते हैं, सदियां नहीं – अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा – ‘सपा के वरिष्ठ नेता व विधायक मा. श्री आज़म ख़ान जी के जमानत पर रिहा होने पर उनका हार्दिक स्वागत है। जमानत के इस फ़ैसले से सर्वोच्च न्यायालय ने न्याय को नये मानक दिये हैं।पूरा ऐतबार है कि वो अन्य सभी झूठे मामलों-मुक़दमों में बाइज़्ज़त बरी होंगे। झूठ के लम्हे होते हैं, सदियाँ नहीं!’

अखिलेश यादव से नाराज चल रहे हैं आजम खान!

विधानसभा चुनाव के बाद से यह खबरें आ रही थी कि आजम खान अखिलेश यादव से नाराज चल रहे हैं। इस खबर को तब और हवा मिल गई थी जब आजम खान के करीबी फसाहत अली खान ने ये कहा थी कि – ‘क्या यह मान लिया जाए कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सही कहते हैं कि अखिलेश यादव नहीं चाहते कि आजम खान जेल से बाहर आएं?’ उन्होंने कहा था कि हम लोग यतीम हो गए क्योंकि हमारे साथ तो वो समाजवादी पार्टी भी नहीं है जिसके लिए हमने अपने खून का एक – एक कतरा तक बहा दिया था। उन्होंने कहा था कि हमारे नेता मोहम्मद आजम खान ने अपनी जिंदगी सपा को दे दी, लेकिन सपा ने उन्हें क्या दिया? वहीं, कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने भी यह दावा किया था कि आजम खान सपा से बेहद नाराज है और वह समाजवादी पार्टी के किसी नेता से नहीं मिलना चाहते हैं।

खान परिवार भी है सपा से नाराज

यही नहीं खबरें तो यह भी आती रही हैं कि आजम खान का परिवार और करीबी रिश्तेदार भी सपा और अखिलेश यादव से नाराज है। आजम के करीबियों ने तो यह तक आरोप लगाया था कि पार्टी के लिए खून – पसीना बहाने वाले मुस्लिम नेता की रिहाई के लिए अखिलेश यादव ने कोई प्रयास नहीं किया।

 

 

Leave a Reply