Hindi Mic

Breaking News in Hindi, हिन्दी माईक हिन्दी में खबरें

राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर अधीर रंजन के विवादित ट्वीट ने मचाया बवाल…

1 min read

नई दिल्ली: राजीव गांधी के 31वीं पुण्यतिथि के अवसर पर जहां सभी लोग उन्हें याद कर अपनी यादें ट्विटर पर साझा कर रहे हैं वही अधीर रंजन चौधरी ऐसा कर के आलोचकों के शिकार हो गए हैं। आपको बता दें की सन 1984 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद जब सिख दंगे हुए थे तब उस वक्त के मौजूदा प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने एक बयान दिया था “ जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है।“ इस बयान के बाद से कांग्रेस की हमेशा आलोचना होती रही है। अब अधीर रंजन चौधरी द्वारा फिर से उसी कथित बयान को साझा करने के बाद से वह विवादों से घिर गए हैं।

हालांकि बाद में उन्होंने ये ट्वीट हटा दिया। मौके की गंभीरता को समझते हुए उन्होंने इस ट्वीट का संज्ञान लेते हुए कहा की उन्हें इस ट्वीट की जानकारी नहीं थी। जब मालूम हुआ तो उसे तुरंत डिलीट कर दिया गया इसके बाद उन्होंने दूसरा ट्वीट कर राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने आगे लिखा की विकास का अर्थ केवल कारखाने बनाना, डेम्स या रोड बनाना ही नहीं होता, विकास का मतलब लोगों से होता है। उन्होंने आगे अपना दुख व्यक्त करते हुए कहा की मेरे विरोधियों द्वारा दुर्भावना रखते हुए प्रचार किया जा रहा है।

अधीर रंजन का अकाउंट हैक

अधीर रंजन चौधरी ने बाद में एफआईआर दर्ज कराई की किसी ने उनके ट्विटर अकाउंट को हैक कर लिया है। दिल्ली के साउथ एवेन्यू पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत दर्ज करवाई। उन्होंने कहा की उनके विरोधी उनके खिलाफ बुरी भावना विकसित करने वाले अभियान कर रहे हैं। उनका नाम खराब करने की भी साजिश कर रहे हैं। बाद में उन्होंने डिलीट किए हुए पोस्ट का खण्डन किया।

पुण्यतिथि पे पीएम ने भी श्रद्धांजलि दी

देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनको श्रद्धांजलि अर्पित की। ट्विटर पर एक संदेश भी लिख के ट्वीट किया की हमारे पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि।

बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है

देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने अपने एक बयान में कहा था की जब इंदिरा गांधी की हत्या हुई थी तो लोगों में बहुत रोष था। हर जगह दंगे भड़क उठे थे, कुछ दिनों में ही ऐसा लगा मानो भारत दहल गया हो। तब उन्होंने कहा था की जब भी कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है। उसके बाद 1984 के सिख दंगे हुए। राजनेताओं का मानना है की ये बयान कहीं न कही इन दंगों का कारण रहा इसलिए इस बयान को आज भी विवादित ही देखा जाता है। क्योंकि ये सिख दंगो की याद दिलाता है।

Leave a Reply